आंदोलनकारी किसानों से गृहमंत्री अमित शाह की अपील, सरकार बातचीत के लिए तैयार (A.K.I. News Breaking Report)

Vineet Tripathi | नवभारतटाइम्स.कॉमUpdated: 28 Nov 2020, 08:30:00 PM

शाह ने आगे कहा कि 3 दिसंबर को चर्चा के लिए आपको कृषि मंत्री जी ने निमंत्रण पत्र भेजा है। भारत सरकार आपकी हर समस्या और हर मांग पर विचार विमर्श करने के लिए तैयार है।

 

नई दिल्ली
नए कृषि बिल का विरोध कर रहे किसानों से अब गृहमंत्री अमित शाह (Amit Shah On Farmers Protest) से अपील की है। गृहमंत्री अमित शाह ने कहा कि सीमा से लेकर दिल्ली-हरियाणा बॉर्डर पर रोड पर अलग-अलग किसान यूनियन की अपील पर आज जो किसान भाई अपना आंदोलन कर रहे हैं, उन सभी से मैं अपील करना चाहता हूं कि भारत सरकार आपसे चर्चा के लिए तैयार है।

शाह की अपील
शाह ने आगे कहा कि 3 दिसंबर को चर्चा के लिए आपको कृषि मंत्री जी ने निमंत्रण पत्र भेजा है। भारत सरकार आपकी हर समस्या और हर मांग पर विचार विमर्श करने के लिए तैयार है। उन्होंने कहा कि अगर किसान चाहते हैं कि भारत सरकार जल्द बात करे, 3 दिसंबर से पहले बात करे, तो मेरा आपको आश्वासन है कि जैसी ही आप निर्धारित स्थान पर स्थानांतरित हो जाते हैं, उसके दूसरे ही दिन भारत सरकार आपकी समस्याओं और मांगों पर बातचीत के लिए तैयार है।

बड़े मैदान में करें अनशन,दिल्ली पुलिस करेगी सहयोग
शाह ने किसानों से कहा कि अगर आप रोड की जगह निश्चित किए गए स्थान पर अपना धरणा-प्रदर्शन शांतिपूर्ण ढ़ंग से, लोकतांत्रिक तरीके से करते हैं तो इससे किसानों की भी परेशानी कम होगी और आवाजाही कर रही आम जनता की भी परेशानी कम होगी। शाह ने आगे कहा कि अलग-अलग जगह नेशनल और स्टेट हाइवे पर किसान भाई अपने ट्रैक्टर-ट्रॉली के साथ इतनी ठंड में खुले में बैठे हैं, इन सब से मैं अपील करता हूं कि दिल्ली पुलिस आपको एक बड़े मैदान में स्थानांतरित करने के लिए तैयार है, जहां आपको सुरक्षा व्यवस्था और सुविधाएं मिलेंगी।

नहीं थम रहा किसानों का गुस्सा
केंद्रीय सरकार ने किसानों (Farmers Protest Latest Update) को बातचीत का ऑफर दे दिया है लेकिन अभी फिलहाल किसानों का गुस्सा नहीं थम रहा है। हरियाणा के जींद से किसानों का दिल्ली की ओर कूच करना शनिवार को भी जारी रहा। शुक्रवार देर शाम से ही पंजाब के किसान दिल्ली की ओर रवाना होने शुरू हो गए थे लेकिन काफी किसान किनाना से लेकर पौली गांव तक बन रहे चार लेन मार्ग पर रूके हुए थे। इसके साथ ही किसानों की मांग है कि वो जंतर-मंतर पर पर ही अनशन करेंगे और सरकार उनको ये इजाजत दे।

जंतर-मंतर पर अनशन की मांग
दिल्ली के बुराड़ी में निरंकारी समागम ग्राउंड में “शांतिपूर्ण विरोध प्रदर्शन” (Kisan Protest Burari) करने की अनुमति दिए जाने के एक दिन बाद प्रदर्शनकारी किसान शनिवार को सिंघू और टिकरी सीमा पर रुके रहे। उन्होंने सरकार से जंतर मंतर पर प्रदर्शन करने की मांग की। पंजाब के सबसे बड़े किसान संघ बीकेयू उग्राहन ने कहा, ‘हम निरंकारी पार्क नहीं जाएंगे और राष्ट्रीय राजधानी के बाहरी इलाके में तब तक बैठेंगे जब तक जंतर मंतर पर विरोध प्रदर्शन करने की अनुमति नहीं दी जाती।’

पूरी तैयारी से हैं किसान
किसान ट्रालियों में लकड़ियां, दूध,सब्जियां, सिलेंडर व अन्य सामान साथ लेकर चल रहे हैं। प्रशासन द्वारा दिल्ली की ओर कूच कर रहे किसानों की गिनती के लिए कर्मचारियों को भी तैनात किया गया था। शुक्रवार रात से ही वाहन दिल्ली की ओर बढ़ रहे थे और काफी लंबा काफिला शनिवार दोपहर तक भी चलता रहा।

प्रशासन ने की तैयारी
ड्यूटी मजिस्ट्रेट मनोज कुमार ने बताया कि शुक्रवार रात से किसान जुलाना क्षेत्र में रूके हुए थे और शनिवार सुबह से ही किसान दिल्ली की ओर रवाना होने शुरू हो गए। प्रशासन के आदेशानुसार, किसानों को दिल्ली के लिए शांतिपूर्वक जाने दिया गया है। इस बीच, पौली गांव में पंजाब के किसानों के लिए नाश्ते का प्रबंध भी स्थानीय किसानों द्वारा किया गया था। किसानों के आवागमन की सूचना पाकर पौली गांव के किसान हुक्के सहित बस अड्डे पर पहुंचे। किसानों का कहना है कि वे अपने किसानों भाइयों की मदद की हरसंभव कोशिश करेंगे।

 

Farmers Protest: किसान नेता को गृह मंत्री Amit Shah ने किया Phone  (A.K.I. News Breaking Report)

 

NDTV India LIVE TV – Watch Latest News in Hindi | हिंदी समाचार  (A.K.I. News Breaking Report)

 

Farmers Protest: किसान विरोधी कानून के खिलाफ संघर्ष करना है, सरकार पर दवाब डालना है: Yogendra Yadav

Haryana के CM Manohar Lal Khattar के बयान से नाराज किसान

Rss | Kisan | Bjp | Evm | Kisan Bill | Voice News Network

एक किसान जब बीच सड़क पर बैठ गया? फिर जो हुआ खुद ही देख लो?

Rss | Kisan | Bjp | Evm | Kisan Bill | Voice News Network

 

Rss | Kisan | Bjp | Evm | Kisan Bill | Voice News Network

किसानों की ताकत से सामने मोदी का घमंड चकनाचूर!, दुनियाभर में सरकार की थू-थू?

 

सबसे बड़ा सवाल: क्या कृषि प्रधान देश के किसान “असमाजिक” हैं ? देखिये Sandeep Chaudhary के साथ

 

LIVE: 77 साल के चाचा ने BJP की उड़ाई नींद जमकर हो रहा पूरे देश में शेयर ।Viral Video

 

भारत बंद : गंदी राजनीति में उतरी BJP, MODI की हुई हार – जीते किसान !DELHI में घुसे किसान BJP- MODI

 

किसानों के सामने MODI – SHAH ने टेके घुटने ! जंतर – मंतर पर युवाओं ने उड़ाई नींद BHARAT BAND