अब दुकानों पर नहीं मिलेगी खुली सिगरेट और बीड़ी,लगा प्रतिबंध ? (Garima Times) (A.K.I. Breaking News)

अब दुकानों पर नहीं मिलेगी खुली सिगरेट और बीड़ी,लगा प्रतिबंध ? (Garima Times) (A.K.I. Breaking News)

सिगरेट और बीड़ी पीने वालो के लिए बुरी खबर सामने आयी है। दरअसल अब दुकानों पर सिगरेट और बीड़ी खिले में नहीं मिलेगी। सरकार ने इसपर प्रतिबंध लगा दिया है। बतादे कि एक महीने बाद यानी एक दिसंबर से राजधानी में बीड़ी-सिगरेट को खुला बेचने पर पूरी तरह प्रतिबंध लग जाएगा। इसके बाद पान-गुटखा की दुकानों पर कोई ग्राहक एक-दो सिगरेट नहीं खरीद सकेगा। इसका उद्देश्य युवाओं और स्कूली छात्रों तक सिगरेट जैसे उत्पादों को न पहुंचने देने की कोशिश बताया जा रहा है। गौरतलब है कि पैकेट के 85 फीसदी भाग पर चित्रों में लिखी जानकारी के साथ शब्दों में भी इसके उपभोग से नुकसान की जानकारी होना अनिवार्य है। इतना ही नहीं, पैकेट पर ऐसी हेल्पलाइन नंबर का छपा होना भी अनिवार्य है जिससे अगर कोई व्यक्ति तंबाकू उत्पादों का उपभोग छोड़ना चाहे तो उस पर संपर्क कर सके। वहीं राज्य तंबाकू नियंत्रण अधिकारी डॉक्टर बीएस चरन ने अमर उजाला को बताया कि सिगरेट एंड अदर टोबैको प्रॉडक्ट्स एक्ट, 2003  के सेक्शन 7 के नियमों के अनुसार तंबाकू उत्पादों को ग्राहक के हाथ में जाने वाले हर पैकेट पर इसके उपयोग से होने वाले नुकसान की जानकारी छपी होना अनिवार्य है। डॉक्टर बीएस चरन के मुताबिक, एक-दो सिगरेट या बीड़ी के बेचने पर इन पर यह जानकारी अंकित करना संभव नहीं होता। यही कारण है कि खुदरा में एक-दो सिगरेट की खरीदी कर इसे पीने वालों तक तंबाकू उत्पादों के खतरे की जानकारी नहीं पहुंंच पाती। यही कारण है कि सरकार ने यह फैसला लिया है कि एक दिसंबर से खुले में बीड़ी-सिगरेट के बेचने पर प्रतिबंध लगा दिया जाएगा। ये नियम गुटखा उत्पादों के लिए भी समान रूप से प्रभावी हैं।

 

करवाचौथ पर सजने संवरने के लिए लाई सामान,फिर लगाया मौत को गले ,जानिए वजह (Garima Times) (A.K.I. Breaking News)

यमुनानगर : हरियाणा के यमुनानगर की कीर्ति नगर कॉलोनी में करवाचौथ की खुशियों पर ग्रहण लग गया। दरअसल सभी लोगो के लिए आज का दिन काफी खास होता है। खासकर महिलाए आज के दिन अपने पति के लिए व्रत रखती है। तो वही दूसरी तरफ हरियाणा के यमुनानगर की कीर्ति नगर से अजीबो -गरीब घटना सामने आयी है। बतादे कि पांच माह पहले शादी करने वाली यूपी के गोंडा निवासी 19 साल की प्रीति का शव छत पर लगे पंखे के कुंड पर फंदे पर लटका मिला। वह अपने पति रामू के साथ यमुनानगर की कीर्ति नगर कॉलोनी में रह रही थी। अभी तक की जांच में सामने आ रहा है कि उसने सुसाइड किया है। हालांकि उसके पास से कोई सुसाइड नोट नहीं मिला। पुलिस को प्रीति के मायके वालों के आने का इंतजार है। रामू के भाई ने बताया कि उसका भाई रिक्शा चलाता है। रात को उसका अपनी पत्नी के साथ विवाद हुआ और वह उसके पास लालद्वारा कॉलोनी में आ गया। सुबह वह अपना मोबाइल लेने के लिए कमरे पर आया तो पता चला कि उसकी पत्नी प्रीति फंदे पर लटकी है। किसी तरह से दरवाजा खोला और प्रीति को तुरंत अस्पताल लेकर गए। सिविल अस्पताल के डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया। उसके भाई का कहना है कि उसके भाई की जुलाई में प्रीति के साथ शादी हुई थी। दोनों खुशी से रह रहे थे। घटना के बाद जब पुलिस मौके पर पहुंची तो वहां प्रीति ने करवा चौथ पर सजने संवरने के लिए सामान रखा हुआ था। चूड़ा पैकिंग में ही रखा हुआ था। दोनों का पहला करवा चौथ था। वहीं रामू के चाचा बबलू का कहना है कि जब रामू को पत्नी को मौत का पता लगा, तो वह नहर की ओर भाग गया और जान देने की कोशिश की। उसे लोगों ने पकड़ा। उधर, बताया जा रहा है कि प्रीति मायके जाने की जिद कर रही थी इस बात को लेकर भी दोनों के बीच विवाद हुआ था। उसका पति अक्सर शराब पीकर घर आता था। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम रूम में रखवा दिया है। पुलिस का कहना है कि प्रीति के मायके वाले जो भी बयान देंगे, उसके आधार पर इसमें कार्रवाई की जाएगी।

युवती को आशिकी पड़ी भारी ,प्रेमी ने अश्लील वीडियो…….

(Garima Times) (A.K.I. Breaking News)

प्यार के नाम पर धोखा। अक्सर लोग अपने प्यार पर कुछ ज्यादा ही विश्वास कर लेते है। जिसका खामियाजा उनको भुगतना पड़ता है। अक्सर कहा जाता है कि प्यार अंधा होता है, सही कहते है। तभी तो लड़कियां आसानी से किसी के प्यार में पड़ जाती हैं। और फिर प्यार के नाम पर किसी की हत्या कर दी जाती है तो किसी के साथ गैंगरेप जैसी घिनौनी घटना को अंजाम दिया जाता है। ऐसा ही एक सनसनीखेज मामला सामने आया है। बिहार के जहानाबाद के कल्पा थाना क्षेत्र का, जहां प्रेमी ने पहले अपनी प्रेमिका को फोन करके मिलने के लिए बुलाया और जब वह गई तो अपने तीन दोस्तों के साथ मिलकर गैंगरेप किया। यहीं नहीं प्यार का दम भरने वाले आशिक ने इस दौरान लड़की की अश्लील वीडियो भी बना ली। हैरानी इस बात की है कि इससे पहले भी आरोपियों ने नाबालिग युवती का अश्लील वीडियो बनाया था। और उससे वायरल करने की धमकी देकर उससे मिलने के लिए बुलाया। जब लड़की गई तो चारों ने उसके साथ गैंगरेप की घटना को अंजाम दिया। लेकिन इस बार पीड़िता ने पुलिस में चारों के खिलाफ केस दर्ज करा दिया। मामला दर्ज होने के बाद पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। और पीड़िता को मेडिकल जांच के लिए भेज दिया है। पुलिस ने दावा किया है कि जल्द ही बाकी आरोपियों को भी गिरफ्तार कर लिया जाएगा। पुलिस ने बताया कि एक आरोपी अंकित और पीड़िता में पहले से दोस्ती थी। पीड़िता को फोन कर अंकित ने ही मिलने के लिए बुलाया था। जिसके बाद इस घटना को अंजाम दिया है।

पेंशनधारकों के लिए अलर्ट! नहीं किया ये काम तो रुक जाएगी पेंशन

(Garima Times) (A.K.I. Breaking News)

नई दिल्ली।  अगर आप पेंशनर हैं और आपका लाइफ सर्टिफिकेट जमा नहीं हुआ है तो ये खबर आपके लिए बेहद महत्वपूर्ण है, क्योंकि पेंशनधारकों को पेंशन पाने के लिए हर साल नवंबर में अपना लाइफ सर्टिफिकेट यानी अपने जिंदा होने का प्रमाणपत्र जमा करना पड़ता है।  पहले पेंशनभोगियों को बैंक या पोस्ट ऑफिस जाकर हर साल यह सर्टिफिकेट जमा कराना होता था, लेकिन अब कर्मचारी भविष्य निधि संगठन ने सीनियर सिटिजन के लिए घर बैठे ऑनलाइन लाइफ सर्टिफिकेट जमा कराने की सुविधा शुरू की है।

इस साल ऑफलाइन माध्यम से लाइफ सर्टिफिकेट जमा कराने की तिथि 31 दिसंबर तक है, लेकिन ऑनलाइन माध्यम से आप साल में किसी भी समय लाइफ सर्टिफिकेट सबमिट कर सकते हैं।  सर्टिफिकेट जमा करने की तारीख से एक साल तक के लिए यह लाइफ सर्टिफिकेट वैलिड रहेगा।  आपको बता दें कि देशभर में करीब 64 लाख लोग साल में एक बार जीवन प्रमाण पत्र जमा कराते हैं।

आप अपना प्रमाणपत्र ऑनलाइन जमा करने के लिए सबसे पहले लाइफ सर्टिफिकेट को ऑनलाइन पेंशन डिस्बर्सिंग बैंक, उमंग ऐप या कॉमन सर्विस सेंटर के जरिए सबमिट किया जा सकता है। उसके बाद डिजिटल सर्टिफिकेट लेने के लिए सबसे पहले पेंशनर्स को यूनीक प्रमाण ID लेना होगा।  यह ID पेंशनर्स के आधार नंबर और बायोमीट्रिक के जरिए जेनरेट किया जाता है।

पहली बार यह ID जेनरेट करने के लिए लोकल सिटिजन सर्विस सेंटर जा सकते हैं जहां आधार ट्रांजैक्शन किया जाता है।  इसके अलावा आप पेंशन डिस्बर्सिंग एजेंसी की किसी ब्रांच में भी जा सकते हैं। पेंशनर्स को अपना आधार नंबर, मोबाइल नंबर, पेंशन पेमेंट ऑर्डर और पेंशन अकाउंट नंबर देने के साथ बायोमीट्रिक भी देना होगा।  सभी जरूरी दस्तावेज मुहैया कराने के बाद आपके मोबाइल नंबर पर एक एकनॉलेजमेंट SMS आएगा। इसी में आपका प्रमाण ID भी होगा।

प्रमाण ID जेनरेट करने के बाद आपको पेंशन डिस्बर्सिंग एजेंसी को लाइफ सर्टिफिकेट जमा करने की जरूरत नहीं है।  आप जीवन प्रमाण पोर्टल https://jeevanpramaan.gov.in पर जाकर डिजिटल तरीके से जीवन प्रमाण पत्र जमा कर सकते हैं। एजेंसी पोर्टल से भी जीवन प्रमाण पत्र हासिल कर सकती है।  पेंशनर्स Umang App के जरिए मोबाइल या सिस्टम पर भी लाइफ सर्टिफिकेट जेनरेट कर सकते हैं।

Umang App पर लाइफ सर्टिफिकेट बनाने के लिए गूगल प्लेस्टोर से उमंग ऐप (Umang App) डाउनलोड करें।  ऐप खुलने पर इसमें जीवन प्रमाण सर्व‍िस सर्च करें।  इसके बाद अपने मोबाइल से biometric device कनेक्ट करें। जीवन प्रमाण सर्विस के अंदर दिए गए General Life Certificate के टैब पर क्लिक करें।  यहां पर पेंशन प्रमाणीकरण टैब में आपका आधार नंबर और मोबाइल नंबर दिखेगा।  दोनों चीजें सही हैं तो जेनरेट ओटीपी के बटन पर क्लिक करें। अपने मोबाइल पर आए ओटीपी नंबर को निर्धारित जगह पर भरें और सबमिट करें।  इसके बाद अपने बायोमेट्रिक डिवाइस की मदद से अपना फिंगरप्रिंट स्कैन करें।  फिंगरप्रिंट मिलने के साथ ही ड‍िज‍िटल लाइफ सर्टिफिकेट तैयार हो जाएगा। सर्टिफिकेट देखने के लिए व्‍यू सर्टिफिकेट पर क्लिक करें। आधार नंबर की मदद से इसे देखा जा सकता है।

मरीजों को मिलेगी बेहतर चिकित्सा सुविधा सिर्फ रोहतक के …

(Garima Times) (A.K.I. Breaking News)

क्या आप भी ऐसी ही एक ऐसे  होम केयर हॉस्पिटल  देख रहे है जहा आपको अस्पताल जैसी सुविधाएं तो चाहिए मगर देखभाल भी  घर के ही जैसी होनी चाहिए,तो सांघी नर्सिंग होम एंड ट्रामा सेन्टर आपके लिए बिलकुल सही चुनाव है।
मनुष्य के शरीर के हर अंग की अपनी विशेषता है। यदि इसमें से कोई भी एक खराब हो जाता है या उसमें किसी तरह की समस्या होती है तो उसका असर पूरे शरीर पर पड़ता है।ज्यादातर मामलों में रीढ़ की हड्डी का दर्द कुछ घंटों से दिनों में धीरे-धीरे कम होने लग जाता है और ना ही कोई गंभीर समस्या पैदा करता।यह ऐसा दर्द है जो कभी नीचे से ऊपर और कभी ऊपर से नीचे की ओर बढ़ता है।यदि आपकी रीढ़ की हड्डी का दर्द एक हफ्ते या उससे अधिक समय से लगातार हो रहा है या यदि दर्द के कारण आपके रोजाना की जीवनशैली पर प्रभाव पड़ रहा है, तो ये समस्या गंभीर हो सकती है।
क्या आप भी निम्नलिखित में से किसी बिमारी से जूझ रहे है?
न्यूरो (मस्तिष्क और रीढ़ की हड्डी)
पथरी
हड्डी रोग
स्त्री रोग
तो इलाज के लिए आज ही आइये  सांघी नर्सिंग होम एंड ट्रामा सेन्टर।
इतना ही नहीं गर्भवती महिलाओ के लिए घर जैसी होम केयर भी दी जाती है  क्युकी हर महिला चाहती है उससे बिलकुल काम बजट के अंदर बेहतर सुविधाएं मिल सके।
नर्सिंग होम में ट्रामा सुविधा,फिजियोथेरेपी,न्यूरोसर्जरी,ऍन आई सी यू व् आई सी यू (नवजात शिशु के लिए),लेप्रोस्कोपिक सर्जरी व् कई अन्य सुविधाएं दी जाती है।इतना ही नहीं सांघी नर्सिंग होम एंड ट्रामा सेन्टर में  रोग को पहचान कर तुरंत उपचार करने की दक्षता में ,रोगियों को उनकी जरूरत के मुताबिक ज्यादा समय देने के जज्बे में,जिससे रोगी को उपचार के साथ उसकी जान की रक्षा भी हो सके, में मदद करता है।
आपकी सुविधाओं के लिए डॉक्टर की पूरी टीम 24 घंटे अपने मरीजों की सुविधाओं के लिए हाज़िर है।
पता – छोटू राम चौक,रोहतक
संपर्क करें  – 9992618196, 01262-253749

हरियाणा में जूनियर इंजीनियर समेत कई पदों पर निकले आवेदन

         (Garima Times) (A.K.I. Breaking News)

हरियाणा में युवाओ के लिए के लिए सरकारी नौकरी का अच्छा मौका है बतादे कि जूनियर इंजीनियरिंग समेत कई पदों पर आवेदन निकले है। दरअसल इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन लिमिटेड ने पानीपत रिफाइनरीज डिवीजन में जूनियर इंजीनियरिंग असिस्टेंट / जूनियर टेक्निकल असिस्टेंट और जूनियर क्वालिटी कंट्रोल एनालिस्ट के पदों पर भर्ती के लिए आवेदन आमंत्रित किए हैं। गौरतलब है कि जूनियर इंजीनियरिंग असिस्टेंट- IV के लिए शैक्षणिक योग्यता किसी मान्यता प्राप्त संस्थान / विश्वविद्यालय से न्यूनतम 55%अंकों के साथ केमिकल / रिफाइनरी और पेट्रोकेमिकल इंजीनियरिंग / इंस्ट्रूमेंटेशन / मैकेनिकल इंजीनियरिंग में 3 वर्ष का डिप्लोमा होना ज़रूरी है ।जूनियर क्वालिटी कंट्रोल एनालिस्ट- IV की शैक्षणिक योग्यता जनरल और ओबीसी उम्मीदवारों के लिए कम से कम 50%अंकों के साथ फिजिक्स, केमिस्ट्री/ इंडस्ट्रियल केमिस्ट्री और मैथमेटिक्स पास होना चाहिए । वहीं  अनुसूचित जाति /अनुसूचित जनजाति / पीडब्ल्यूडी उम्मीदवारों के लिए 45% अंकों के साथ बीएससी होना चाहिए ।आवेदक की आयु 18 से 26 वर्ष होनी चाहिए । तो इच्छुक और पात्र उम्मीदवार 12 अक्टूबर से 07 नवंबर 2020 तक आधिकारिक वेबसाइट पर ऑनलाइन मोड से इन पदों के लिए आवेदन कर सकते हैं । कुल 110 पदों पर आवेदन निकले हैं । ऑनलाइन आवेदन जमा करने की अंतिम तिथि 07 नवंबर 2020 शाम 5 बजे तक है। दस्तावेजों के साथ आवेदन की हार्ड-कॉपी जमा करने की अंतिम तिथि 28 नवंबर 2020 है । लिखित परीक्षा की तिथि 29 नवंबर 2020 है । लिखित परीक्षा के परिणाम की तिथि 18 दिसंबर 2020 है । दरअसल चयन लिखित परीक्षा, स्किल / प्रोफिसिएन्सी / फिजिकल टेस्ट (SPPT) के आधार पर किया जाएगा

Leave A Reply

Your email address will not be published.