लोकतंत्र का महापर्व विस चुनाव शांतिपूर्ण माहौल में हुआ संपन्न

जमुई। बिहार विधानसभा 2020 को लेकर प्रथम चरण के अंतर्गत जमुई जिला के 4 विधानसभा सीटों पर बुधवार को वोट डाले गए ।जिले के सभी 4 विधानसभा क्षेत्रों के कुल 1768 मतदान केंद्रों पर बुधवार को कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच मतदान प्रारंभ हुआ। सभी मतदान केंद्रों पर केंद्रीय अर्धसैनिक बलों को तैनात किया गया था और सघन गश्ती की जा रही थी। मतदान को लोग उत्सव के रूप में महत्व देते दिखे। सुबह से ही मतदाताओं की लंबी कतार मतदान केंद्रों पर देखी जा रही थी। महिला मतदाताओं में भी काफी उत्साह दिखा। महिलाओं की लंबी कतार कई मतदान केंद्रों पर देखी गई। विशेषकर युवा मतदाता जो पहली बार मत दे रहे थे वे भी काफी उत्साहित दिखाई दिए।त्रत्रत्रत्रकोरोना संक्रमण को लेकर सतर्क नजर आए मतदाता वह मतदान कर्मीत्रत्रत्रत्रत्रत्र इस बार कोविड.19 के संक्रमण से बचने के लिए चुनाव आयोग द्वारा जारी गाइडलाइन का पालन करते हुए मतदाता एवं मतदान कर्मी सतर्क नजर आए । मतदान कर्मियों द्वारा मतदाताओं के बीच सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराया जा रहा थाए हाथ में ग्लब्स दिया जा रहा था और हाथों पर सैनिटाइजर का उपयोग कराया जा रहा था।तमाम मतदान केंद्रों पर आशा कार्यकर्ताओं के द्वारा थर्मल स्क्रीनिंग से मतदाताओं के शरीर का तापमान की जांच की जा रही थी।
सुरक्षा को लेकर प्रशासन विशेष रूप से गंभीर रहा
सुरक्षा को लेकर मतदान अवधि के दौरान प्रशासन पूरी तरह से गंभीर नजर आया जिले के सभी 1768 बूथों पर पैरामिलिट्री फोर्स की तैनाती की गई थी। नक्सल प्रभावित इलाकों में सुरक्षा की खास व्यवस्था की गई थी । मतदाता निर्भीक होकर इन क्षेत्रों में मतदान कर रहे थे ।इन क्षेत्रों पर जब श्वेत पत्र संवाददाता ने मतदाता से जानना चाहा कि नक्सली क्षेत्र होने के बावजूद आपको कोई खतरा तो नहीं लग रहा हैघ् तो मतदाता ने स्पष्ट तौर से कहा कि इस बार प्रशासनिक रूप से सुरक्षा के काफी इंतजाम किए गए हैं। इस कारण हम लोग निर्भीक होकर नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में भी मतदान कर रहे हैं। समाचार संप्रेषण तक जमुई जिले के 4 विधानसभा सीटों पर संपन्न हुए चुनाव में कहीं से भी किसी अप्रिय घटना की सूचना प्राप्त नहीं हुई है।
मतदान के पश्चात जिलाधिकारी ने प्रेस वार्ता में बताया कि जिले में कहीं से किसी अप्रिय घटना की सूचना नहीं है
जमुई के जिलाधिकारी धर्मेंद्र कुमार ने मतदान समाप्ति के पश्चात आयोजित प्रेस वार्ता में बताया कि जिले के कुछ बूथों पर ईवीएम के खराब होने की सूचना मिली जिसे फौरन बदल दिया गया। ईवीएम खराब होने के कारण 12 मतदान केंद्रों पर मतदान कार्य में विलंब हो गयाए जिस कारण 12 मतदान केंद्रों पर शाम 7 बजे तक मतदान कराया जा रहा है। वहां पर पर्याप्त रोशनी और सुरक्षा की व्यवस्था भी की गई है।
जिले में संपूर्ण जिले में 60 हुआ मतदान
जिला मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी सह जिलाधिकारी धर्मेंद्र कुमार ने बताया कि जिले में कुल 60 मतदान हुआ है।
शहरी क्षेत्रों की अपेक्षा ग्रामीण क्षेत्रों में दिखा वोटरों के बीच उत्साह
इधर शहरी क्षेत्रों की अपेक्षा ग्रामीण क्षेत्रों में मतदाताओं के बीच खासा उत्साह देखा गया। जहां शहरी क्षेत्रों में अधिकांश मतदान केंद्रों पर मतदाताओं की संख्या काफी कम रहीए वहीं ग्रामीण क्षेत्रों में लंबी कतारें दिखाई दी।
जिला मुख्यालय में बनाए गए आदर्श मतदान केंद्र को आकर्षक ढंग से सजाया गया
समाहरणालय के समीप प्लस टू उच्च विद्यालय जमुई में बनाए गए कई आदर्श मतदान केंद्रों को आकर्षक ढंग से सजाया गया था। इन मतदान केंद्रों पर गुब्बारे से की गई सजावट मतदाताओं के बीच चर्चा का विषय रहा। मतदान केंद्रों पर पहली बार मत दे रहे युवा मतदाताओं को सम्मान स्वरूप गुलाब फूल भी दिया गया । इन मतदान केंद्रों पर मतदाताओं के स्वागत के लिए कालीन भी बिछाए गए थे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.