जानें किन राशि वालों के जन्माष्टमी से शुरू होंगे अच्छे दिन

Know which zodiac sign people will start good days from Janmashtami

Image Source : Google

इस बार कृष्ण जन्माष्टमी (Krishna Janmashtami ) पर शुभ योग का निर्माण हो रहा है, जो चार राशिवालों के लिए शुभ रहेगा। जन्माष्टमी (Janmashtami) पर रोहिणी नक्षत्र नहीं होगा। जिसमें श्रीकृष्ण का जन्म हुआ था, लेकिन 19 अगस्त की मध्य रात्रि को शुभ योग बनेगा। पंचांग के अनुसार चंद्रमा वृषभ लग्न और वृषभ राशि में गोचर करेगा। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार लड्डू गोपाल की जो जन्म कुंडली है। उसमें भी चंद्रमा वृषभ लग्न और वृषभ राशि में मौजूद हैं। यानी इस बार कान्हा के जन्म के समय जैसा लग्न बनेगा। इसके अलावा सूर्य की स्थिति भी मुरलीधर की कुंडली जैसे है। इस योग में पूजन करना फलदायी साबित होगा।

जानें किन राशियों के लिए कृष्ण जन्माष्टमी शुभ होंगे

वृषभ राशि

यह समय जीवन में शुभता लेकर आएगा। करियर में सफलता मिलेगी। संपत्ति को लेकर लाभकारी चर्चा हो सकती है। पति-पत्नी के बीच सहयोगात्मक संबंध बने रहेंगे। अटके हुए काम तेजी से बनने लगेंगे। पद-प्रतिष्ठा में वृद्धि होगी। आर्थिक स्थिति में सुधार होगा।

कर्क राशि

जन्माष्टमी कर्क राशि वालों के लिए खुशियां लाएगी। धन लाभ होगा। विवाह आदि के प्रस्ताव को मंजूरी मिल सकती है। कीमती चीजें खरीद सकते हैं। भाग्य का साथ मिलेगा। अपनों का साथ आपको प्रसन्नता देगा। कुछ अनुबंध व वादे भी होंगे।

सिंह राशि

भगवान श्रीकृष्ण की कृपा से करियर में बड़ी सफलता मिलेगी। मित्रों एवं प्रेमी से मुलाकात हो सकती है। जीवन के अधूरेपन को नया रंग भरने का अवसर प्राप्त होगा। परिजनों की मदद से कोई बड़ा काम संपन्न होगा। शत्रु परास्त होंगे।

वृश्चिक राशि

वृश्चिक राशि के जातकों को जन्माष्टमी पर बना रहा योग काफी लाभ देगा। पारिवारिक जीवन सुखद रहेगा। सेहत अच्छी रहेगी। पुरानी परेशानियों से निजात मिलेगी। प्रॉपर्टी संबंधी कोई डील फाइनल हो सकती है। नई उम्मीदों के साथ आगे बढ़ेंगे।

डिसक्लेमर

‘इस लेख में दी गई जानकारी/सामग्री/गणना की प्रामाणिकता या विश्वसनीयता की गारंटी नहीं है। सूचना के विभिन्न माध्यमों/ज्योतिषियों/पंचांग/प्रवचनों/धार्मिक मान्यताओं/धर्मग्रंथों से संकलित करके यह सूचना आप तक प्रेषित की गई हैं। हमारा उद्देश्य सिर्फ सूचना पहुंचाना है, पाठक या उपयोगकर्ता इसे सिर्फ सूचना समझकर ही लें। इसके अतिरिक्त इसके किसी भी तरह से उपयोग की जिम्मेदारी स्वयं उपयोगकर्ता या पाठक की ही होगी।’

News Source : Naidunia New