खाटूश्याम मंदिर के बाहर भगदड़ में तीन महिलाओं की मौत

Three women killed in stampede outside Khatushyam temple

Image Source : Google

राजस्थान के सीकर जिले में सोमवार को तड़के खाटूश्याम मंदिर के बाहर भगदड़ में तीन महिलाओं की मौत हो गई और चार अन्य घायल हो गए। पुलिस ने यह जानकारी दी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने लोगों की मौत पर दुख जताया और घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना की है। हिंदू कैलेंडर के अनुसार, पवित्र दिन माने जाने वाले ‘ग्यारस’ के मौके पर खाटू श्याम मंदिर के बाहर बड़ी संख्या में लोग एकत्रित हुए थे।

मंदिर रात को बंद था और दर्शनार्थियों ने कतारें लगानी शुरू कर दी ताकि मंदिर के खुलते ही वे लोग दर्शन कर सकें। सीकर पुलिस अधीक्षक कुंवर राष्ट्रदीप ने बताया, ‘‘हादसा तड़के साढ़े चार बजे उस समय हुआ जब मंदिर खुला। मंदिर के बाहर लंबी कतारें थीं और द्वार खुलते ही श्रद्धालुओं में आगे जाने की होड़ मच गई। इसी दौरान एक कतार में खड़ी 63 वर्षीय महिला नीचे गिर पड़ी। उन्हें दिल की बीमारी थी। उनके पीछे खड़ी दो और महिलाएं भी गिर पड़ीं। भगदड़ में उनकी मौत हो गयी।’’

राष्ट्रदीप ने बताया कि हादसा मंदिर के प्रवेश द्वार से कुछ मीटर की दूरी पर हुआ। उन्होंने बताया कि सीसीटीवी फुटेज खंगाले जा रहे हैं ताकि घटना के बारे में और जानकारी जुटायी जा सके। प्रधानमंत्री मोदी ने ट्वीट किया, “राजस्थान के सीकर में खाटू श्यामजी मंदिर परिसर में मची भगदड़ में लोगों की मौत से दुखी हूं। मेरी संवेदनाएं शोक संतप्त परिवारों के साथ हैं। जो लोग घायल हुए हैं, उनके जल्द से जल्द ठीक होने की प्रार्थना करता हूं।”

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने महिलाओं की मौत पर दुख व्यक्त करते हुए शोकाकुल परिजनों के प्रति संवेदनाएं व्यक्त की है। गहलोत ने ट्वीट किया, ‘‘सीकर में खाटूश्याम जी के मंदिर में भगदड़ होने से तीन दर्शनार्थी महिलाओं की मृत्यु बेहद दुखद एवं दुर्भाग्यपूर्ण है। मेरी संवेदनाएं शोकाकुल परिजनों के साथ हैं। ईश्वर उन्हें यह आघात सहने की शक्ति दें एवं दिवंगतों की आत्मा को शांति प्रदान करें। भगदड़ में घायल हुए श्रद्धालुओं के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करता हूं।

News Source Link