हमें दुनिया में रहकर अपने जीवन को बेहतर बनाने के लिए कभी कभी अकेला भी रहना सीख लेना चाहिए ( Motivational Lines ) (AKI News Breaking)

हमें दुनिया में रहकर अपने जीवन को बेहतर बनाने के लिए कभी कभी अकेला भी रहना सीख लेना चाहिए ( Motivational Lines ) (AKI News Breaking)

दोस्तों क्या आप जानते है कि अकेले व्यक्ति को कमजोर समझा जाता है लेकिन वास्तविकता यह है कि वही इंसान सही मायने में सफल होता है जो अकेले चलने में विश्वास रखता है  अकेले चलने का वही व्यक्ति साहस रखते है जो मुसीबतों और कठिनाईओं का सामना करने से बिलकुल भी डरते नहीं है ज्यादातर लोग बने बनाये रास्ते पर सभी लोगों कि भीड़ के साथ चलना पसंद करते है  यही कारण है  कि ज्यादातर लोग कुछ नया नहीं कर पाते  और जब भी आप कुछ नया और बेहतर करने कि कोशिश करते है तब आप अपने आपको अकेला पाते है अकेलापन आपकी सबसे बड़ी ताकत है और सबसे बड़ी कमजोरी भी कुछ लोग अकेलापन दूर करने कि कोशिश करते है क्योंकि उन्हें अपना अकेलापन बहुत बड़ी कमजोरी लगता है  लेकिन जो लोग अपने अकेलेपन को अपनी ताकत बना लेते है वही इस अकेलेपन कि वजह से बहुत आगे निकल जाते है सफलता कि उच्चायिओं को छूते है  और अपने सपनो को पूरा कर लेते है क्योंकि वही अकेलेपन कि ताकत को समझ जाते है 

लोग कहाँ तुझको टोके 

भीड़ कहाँ तुझको रोके 

जीत के पथ पर कर तू प्रस्थान 

अकेलेपन का बल पहचान 

आजकल लोग अकेलेपन को नकारात्मक दृश्टिकोण से देखते है  जबकि वास्तव में हर इंसान अकेला ही होता है  इंसान का जनम अकेला होता है इंसान कि मृत्यु भी उसे अकेले ही भोगनी होती है  जब इतने बारे बारे काम इंसान अकेला ही कर सकता है तो इन छोटे दुःख मुसीबतों से क्यों घबरा जाता है  यह अकेलापन आपको ऐसी ताकत दे सकता है कि आपको सफलता के शिखर तक पंहुचा सकता है 

अकेलापन परेशानी नहीं बल्कि एक वरदान है अगर आपको उसकी सही पहचान है जो चलता है अकेला वही बलवान है भीड़ में तो चलते हज़ारों इंसान है अकेले अपने पथ पर चलने वालों का दुनिया मजाक बनाती है लेकिन दुनिया वालों कि बातों से घबराकर  वो लोग अपना रास्ता नहीं बदलते जो लोग अपने पथ को लेकर निश्चय कर चुके होते है जो व्यक्ति दुनिया के मजाक तानो और व्यंग्य कि परवाह न करते हुए आगे निकल चुके होते है केवल वे लोग ही अपना नया इतिहास रच पाते है आप अपने अकेलेपन में अपने मस्तिष्क का बेहतर इस्तेमाल कर पाते है और अपने जीवन के बारे में कुछ अच्छा और कुछ नया कर पाते है  और जब आप अकेले होते है कोई आपके दिमाग में नेगेटिव विचार नहीं डाल पाता और न ही आपको कोई भी डिमोटिवेट कर सकता है 

जो लोग दोस्तों के झुण्ड में रहते है गप्पे मारते है अकेलेपन से भागते है ज़िन्दगी में कभी कुछ नहीं कर पाते क्योंकि भीड़ में घुसे रहने वाला व्यक्ति कभी अपने बारे में कुछ सोच नहीं पाते क्योंकि अपने लिए समय ही नहीं मिल पाता भीड़ उसे कभी कुछ अलग करने नहीं देती यहाँ तक कि कुछ अलग सोचने तक नहीं देती  जब आप अकेले होते है तो आप सिर्फ खुद के बारे में सोचते है कि आप खुद कैसे अपने भविष्य को और मजबूत और बेहतर बना सकते है जिससे आपका वास्तविक फायदा होता है  अकेले में रहकर आप चिंता और दबाव से मुक्त हो जाते है कोई फ़िक्र नहीं रहती आप सभी चीज़ें अपने हिसाब से करते है और सारा नियंत्रण सिर्फ आपके हाथों में होता है और न ही आपको इस बात कि चिंता होती है कि वह व्यक्ति आपके बारे में क्या सोचेगा और क्या बोलेगा अपने रिश्तों कि क़द्र जरूर कीजिये लेकिन एकांत में रहकर अपने आपको समय जरूर दीजिये 

केवल यही सब कुछ इन्ही लाइन्स का सार है मैं आशा करता हूँ आप सभी से आपको मेरी लाइन को देखने और समझने के बाद आपको सब कुछ अच्छे से समझ में आ गया होगा कृपया मेरे इस ब्लॉग को ज्यादा से ज्यादा अपने ग्रुप्स में शेयर कीजिये और सभी को मेरी इन सभी लाइन्स को समझने के बाद अपने आप के लिए समय आप सभी निकाल ही लेंगे 

धन्यवाद दोस्तों 

आपका आभार 

आपका मित्र 

अतुल कुमार बेदी 

Leave A Reply

Your email address will not be published.